रंगमंच की दुनिया में स्त्री

न्यूज़क्लिक और इंडियन रायटर्स फ़ोरम ने जानी-मानी रंगमंच निर्देशक और नाटक की प्रोफेसर अनुराधा कपूर से भारतीय रंगमंच पर ख़ास बातचीत कीI उन्होंने अपने रंगमंच के सफ़र, थिएटर की दुनिया में महिलाओं के योगदान और स्त्री पात्रों तथा अपने नाटक 'नाले वाली लड़की' के बारे में चर्चा कीI वे नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा की डायरेक्टर रह चुकी हैं और फिलहाल दिल्ली के अम्बेडकर विश्वविद्यालय में कार्यरत हैंI

 


और पढ़ें:
“थिएटर मेरे लिए अलजेब्रा की तरह लॉजिकल है”
“जो नाटक से नाराज़ है, उसने कभी नाटक देखा ही नहीं है!”
तथागत : एक चालाक नाटक