ईसाई और मुसलमानों से क्यों नफरत करते हैं स्वघोषित राष्ट्रवादी?

ईसाई और मुसलमानों से क्यों नफरत करते हैं स्वघोषित राष्ट्रवादी?

जब विजयी शासकों ने अपने जश्न की यशोगाथा लिखी और अपनी सत्ता का इतिहास लिखा, तो अपने शत्रुओं का भयानक चित्रण किया, उन्हें आदमखोर राक्षस, निशाचर, पशुओं के शरीर वाला और न जाने किन-किन विकृत नामों की उपाधियाँ दीं, फिर उन हत्याओं की स्मृतियों में उत्सव मनाये गये। आज अगर हम इन उत्सवों पर टिप्पणियां…